लोकवाणी

मुख़्तलिफ़ आवाज़, निगाह और विचार

Year: 2019

महाराष्ट्र में बेमौसम बारिश से प्रभावित किसान ने खेत में बोर्ड लगाया मेरे परिवार को खरीदें

बेमौसम बारिश से खराब हुई फसलों का मुआवजा नहीं मिलने से नाराज महाराष्ट्र के वाशिम जिले के कोलगाँव के एक किसान ने अपने खेत में बोर्ड लगाकर राज्य के मुख्यमंत्री से अनुरोध किया है कि राज्य सरकार या तो खराब…

CAA प्रोटेस्ट: हाथ में तिरंगा थामे आमिर हंजला भीड़ में कहां गुम हो गया?

कुमार दीपक उस मां पर क्या बीत रही होगी जिसका बच्चा पिछले सात दिनों से लापता हो. उस बाप पर क्या बीत रही होगी जो अपने बेटे के गुमशुदगी का कारण जानकर भी कुछ नहीं कर सकता. उनका बेटा लौटे…

अगर कोई मोदी भक्त कहे कि पहले विधेयक पढ़ तो लो, तो ये 28 सवाल जरूर उनसे पूछना

कृष्णकांत अगर कोई बीजेपी भक्त कहे कि पहले विधेयक पढ़ तो लो, ये 28 सवाल उनसे जरूर पूछना. 23 जुलाई, 2014 को तत्कालीन केंद्रीय गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू ने राज्यसभा में क्यों कहा था कि ‘सरकार ने नेशनल रजिस्टर…

सेना में तीस साल की नौकरी, एनआरसी और डिटेंशन कैंप

सेना में तीस साल की नौकरी, एनआरसी और डिटेंशन कैंप कृष्णकांत सनाउल्लाह भारतीय सेना के रिटायर्ड जवान हैं. 30 साल तक सेना में सेवा दी है. वे भारतीय सेना के इलेक्ट्रॉनिक्स और मैकेनिकल इंजीनियर्स विंग में बतौर सूबेदार तैनात थे….

‘कल की चिंता मत करो, कल अपनी चिंताएँ लिए हुए आएगा’

प्रकाश के रे जीसस के दो कथन मुझे बहुत प्रिय हैं. वे कहते हैं, कल की चिंता मत करो, कल अपनी चिंताएँ लिए हुए आएगा. आज की परेशानियाँ आज के लिए बहुत हैं. दूसरा कथन यूँ है- वे लोग अभी…

‘जब NRC पर बात करने बीजेपी वाले घर आएं तो जरूर पूछिए ये सवाल’

गुरदीप सप्पल बीजेपी के लोग घर घर जाने का प्लान बना रहे हैं, लोगों को CAA-NRC समझाने के लिए। ये अच्छी बात है। क्योंकि देश में ऐसे विषयों पर संवाद और विमर्श बहुत ज़रूरी है। उनसे कुछ ज़रूरी सवाल पूछिये।…

दिल्ली में दरियागंज थाने के बाहर रखी टूटी हुई लाठियां और बेंत

द टेलीग्राफ में पहले पन्ने पर प्रकाशित फोटो का कैप्शन है – दिल्ली में दरियागंज थाने के बाहर रखी टूटी हुई लाठियां और बेंत। यह भी सरकारी संपत्ति का नुकसान है। पता नहीं लोंगों की पीठी इतनी मजबूत कैसे होती…

क्यों डराते हो…!

अहमद मोबीन सूना जंगल रात अंधेरी छाई बदली काली है सोने वालों जागते रहियो चोरों की रखवाली है शहद दिखाए ज़हर पिलाए  डाइन क़ातिल शौहर कुश  इस मुरदार पे क्या ललचाया दुनिया देखी भाली है_रज़ा लोकतंत्र का महोत्सव चल रहा है. अगर…

नागरिकता संशोधन विधेयक पर बहस: झूठ का भ्रमजाल

राम पुनियानी संसद के दोनों सदनों द्वारा पारित नागरिकता संशोधन अधिनियम पर विविध प्रतिक्रयाएं सामने आईं हैं, जिनमें से कई नकारात्मक हैं. एक ओर जहाँ उत्तरपूर्व में इस नए कानून का भारी विरोध हो रहा है, जिसमें कई लोगों की…

क्या NRC से सिर्फ़ मुस्लिमों को तकलीफ़ होगी?

गुरदीप सप्पल बात हिंदू मुसलमान की है ही नहीं। NRC राष्ट्रीय स्तर पर बनेगा,ये बात गृह मंत्री अमित शाह बोल चुके हैं। इसमें क्या होगा? क्या सिर्फ़ मुस्लिम लोगों को तकलीफ़ होगी? अभी कोई तारीख़, कोई प्रक्रिया तय नहीं हुई…