लोकवाणी

मुख़्तलिफ़ आवाज़, निगाह और विचार

Month: December 2019

यूपी में रेप पीड़िता के घर के बाहर पोस्टर लगा, ‘गवाही दी तो उन्नाव से भी भयंकर अंजाम होगा’

बागपत रेप विक्टिम के घर के बाहर लगा पोस्टर. केस की सुनवाई में जाते वक्त उन्नाव रेप केस की पीड़िता को आरोपियों ने जलाकर मार दिया गया था। आरोपियों ने उसे कोर्ट तक पहुंचने ही नहीं दिया. पिछले दिनों हुए…

मोदी और शाह ने सावरकर की टू नेशन थ्योरी पर अमल कर भारत को विभाजन की आग में झोंक दिया है

धर्म के आधार पर नागरिकता का प्रावधान संविधान की मूल आत्मा पर हमला है। पहली बार देश की सरकार ने अपने एक काले कानून को बचाने के लिए सफेद झूठ बोला कि कांग्रेस ने धर्म के आधार पर देश का…

मैं एक महिला हूं और मुझे एनकाउंटर न्याय नहीं लगता

एक पत्रकार होने के नाते आप खुद को न्यूज़ साइकल से दूर नहीं रख पाते। हर दिन की शुरुआत भी खबरों से ही होती है।  उस रोज़ पहली खबर जिसपर नज़र पड़ी वह थी हैदराबाद गैंगरेप और मर्डर के सारे…

दिल्ली की अनाज मंडी में लगी भीषण आग, 43 लोगों की मौत

जनज्वार। दिल्ली की रानी झांसी रोड स्थित अनाज मंडी में भीषण आग लग गई। इस हादसे में 43 लोगों की मौत की खबर है, जबकि 50 लोगों को रेस्क्यू किया गया है। सूचना मिलने के बाद स्थानीय पुलिस और फायर ब्रिगेड…

हैदराबाद रेप केस: कानून के राज में एनकाउंटर को किसी भी तरह से इंसाफ नहीं कहा जा सकता!

ज्योति जाटव हैदराबाद बलात्कार कांड के चारों दरिंदों को पुलिस ने ‘एनकाउंटर’ में मार गिराया। तेलंगाना पुलिस के इस कारनामे की आमतौर पर तारीफ हो रही है, जो स्वाभाविक तो है लेकिन यह तारीफ हमारी समूची न्याय व्यवस्था पर एक…

नेताजी, हमलोग तो ‘प्रोलफीड’ खाते हैं, आपलोग क्या खाते हैं?

नेताजी, हमलोग तो ‘प्रोलफीड’ खाते हैं, आपलोग क्या खाते हैं? यह लेख किसी व्यक्तिविशेष या दल-विशेष के बारे में नहीं है। यह सत्ताभोगियों और सत्ताकामियों के प्रतिनिधि-चरित्र के बारे में है। अव्यक्त ‘प्रोलफीड’ शब्द महान लेखक जॉर्ज ऑर्वैल ने गढ़ा…

चुभने लगी है फ़ीस की सूई छात्रों को, फ़ीस बढ़ोतरी के खिलाफ IIMC के छात्र हुए आंदोलित

भारतीय जनसंचार संस्थान के छात्र फ़ीस वृद्धि का विरोध कर रहे हैं। उनका माँग पत्र मुझ तक भी पहुँचा है, आप सभी तक पहुँचने के लिए। फ़ीस बढ़ोत्तरी के खिलाफ IIMC छात्रों ने किया ‘PROTEST’ का आह्वान। इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ…

धर्म, विपक्ष या संवेदनशील नागरिकों को गाली देने वाले लोग रेप पीड़ितों को कैसे इंसाफ दिलवाएंगे?

महेंद्र सिंह निर्भया रेप के बाद लोगों ने किसी फिल्म, धर्म, पत्रकार, यूनिवर्सिटी या विपक्ष के ख़िलाफ़ प्रदर्शन नहीं किया था। लोगों ने उस वक़्त की कांग्रेस सरकार को गालियां दी थी। राष्ट्रपति के दरवाज़े पर लात मारी थी। देश…