लोकवाणी

मुख़्तलिफ़ आवाज़, निगाह और विचार

Mohammad Afzal

चासनाला की खूनी खदान जो 375 मज़दूरों को निगल गई थी, इसी से प्रेरित थी फ़िल्म “काला पत्थर”

27 दिसंबर 1975 को झारखंड के धनबाद से 20 किलोमीटर दूर चासनाला में, कोल इंडिया के अंतर्गत आनेवाली ‘भारत कोकिंग कोल लिमिटेड’ की चासनाला खान के पिट संख्या 1 और 2 के ठीक ऊपर स्थित एक बड़े तालाब में जमा…

जब 2007 वर्ल्ड कप में चिरकुट मानी जाने वाली बांग्लादेश टीम ने इंडियन टीम को हराया था

साल 2007. तारीख़ 17 मार्च. वेस्ट इंडीज़ का पोर्ट ऑफ स्पेन. साढ़े नौ हज़ार के करीब दर्शकों से भरा मैदान. मुक़ाबला था ग्रुप-बी की दो बिल्कुल ही अलग स्तर की टीमों का. भारत और बांग्लादेश. टूर्नामेंट में दोनों ही टीमों…

अगर 2024 में चुनाव नहीं होगा तो हमें फ्री की पूड़ी-सब्ज़ी, दारु कौन देगा और नफरत कौन फैलाएगा

“2024 में नहीं होंगे कोई चुनाव” …अरे डर गए क्या? ना..ना डरे नहीं, चुनाव आयोग ने ऐसा कोई ऐलान नहीं किया है भाई. दरअसल ये धांसू आइडिया हमारे प्यारे, साक्षी महाराज जी के दिमाग़ की उपज है. महाराज जी उत्तर…

ब्रिज हादसे में 6 की मौत, ब्रिज गिरने या रेल पलटने से हुई मौतों को देखकर हमें गुस्सा क्यों नहीं आता!

गुरुवार रात को मुंबई में छत्रपति शिवाजी टर्मिनस (सीएसटी) रेलवे स्टेशन पर फुटओवर ब्रिज गिर जाने से 6 लोगों की मौत हो गई और 30 के करीब लोग घायल हुए हैं. पिछले 2 सालों से लगातार रेल व फुटओवर ब्रिज…

हैदर से अपनी मौत का इंतक़ाम लेने को कहने वाले इस एक्टर की आज पहली पुण्यतिथि है

“रूहदार…अग़र तुम वाक़ई में बच गए, तो मेरा एक पैग़ाम दे देना, मेरे बेटे हैदर को. उससे कहना कि वो मेरा इंतक़ाम ले….मेरे भाई से. उसकी उन दोनों आंखों में गोलियां दागे, जिन आंखों ने उसकी मां पर फ़रेब डाले…