लोकवाणी

मुख़्तलिफ़ आवाज़, निगाह और विचार

Rajeev Nayan Bahuguna

भाड़े की भीड़ पर सवार तथाकथित ‘शेरों’, रैली के बाद भीड़ की दिहाड़ी चुकाया करो!

आज मेरे शहर में कांग्रेसियों के भगवान राहुल गांधी आ रहे हैं, और मुझे सुबह-सुबह अपने निर्माणाधीन भवन की ओर कूच करना पड़ रहा है। मुझे कल ही एक शुभेच्छु चेता चुके हैं, “तुम्हारे मज़दूरों को ड्योढ़ा- दुगुना मोल देकर…