लोकवाणी

मुख़्तलिफ़ आवाज़, निगाह और विचार

राजनीति

टीवी एंकर्स और नेता गिद्ध बनकर शहीदों की लाश नोचना और आपको अन्धा बनाकर भड़काना चाहते हैं

लेखक: Murari Tripathi और Mandeep Punia जम्मू में कुछ दक्षिणपंथी समूहों ने मुस्लिम बस्तियों में हमला किया है। देश के कई कोनों से खबरें आ रही हैं कि कहीं कश्मीरियों को परेशान किया जा रहा है तो कहीं मारा जा…

पड़ताल: पुलवामा में हमला करने वाले आंतकी के साथ राहुल गांधी की तस्वीर झूठी है

पुलवामा आतंकी हमले ने सभी को दहला दिया है. इस समय विपक्ष और सरकार आतंकवाद के खिलाफ एक साथ खड़े दिख रहे हैं. लेकिन कई ओछे लोग इस मामले को अपनी घटिया मानसिकता का परिचय दे विपक्ष को बदनाम करने…

जवानों पर हमले का दृश्य देखकर लोग रो रहे हैं, सत्ता को यह रुदन सुनाई देना चाहिए, आओ सामूहिक रुदालियाँ गाएं

आवेश तिवारी श्रीनगर में सीआरपीएफ़ के बहादुर जवानों पर हमले के पीछे केवल आतंकी नहीं है बल्कि इंटेलिजेंस एजेंसियों और उच्चाधिकारियों की घोर लापरवाही भी है| यह हमला हमारी सुरक्षा एजेंसियों की कार्यशैली पर भी सवाल खड़ा करता है और…

राफेल पर कैग की रिपोर्ट की लच्छेदार भाषा और अरुण जेटली के झूठों का पहाड़

राफेल पर CAG की रिपोर्ट की भाषा भ्रमित करने वाली है। यह लच्छेदार भाषा में छुपे झोल कुछ इसप्रकार हैं, रिपोर्ट में ऑफसेट कांट्रैक्ट को लेकर कहीं कोई जिक्र नहीं है. इस तरह से रिपोर्ट में इस बात की कोई…

आखिर क्योंं, कैसे और किसके इशारे पर राफेल डील में अंबानी की गोटियां फिट हुईं!

मार्च 2015 के चौथे सप्ताह में, राफेल पर नरेंद्र मोदी द्वारा नई डील की घोषणा करने के दो सप्ताह पहले, अनिल अंबानी फ्रांस के रक्षा मंत्री के प्रमुख सलाहकारों से मिले. यह मुलाकात पूरी तरह से गोपनीय और बहुत ही…

NRC: अपारदर्शी तंत्र और निरंकुश नौकरशाही के चक्रव्यूह में फंसे गरीबों के बहिष्कार का रजिस्टर

असम में लंबे समय से रहे लोगों को उलझन भरे अपारदर्शी नियमों और बेपरवाह नौकरशाही के जजांल से गुजरकर अपनी नागरिकता साबित करने की मुसीबत आन पड़ी है. यह भारतीय राज्य के सबसे कमजोर लोगों के साथ पिछले दो दशकों…

किसके लिए रफाल डील में डीलर और कमीशनखोर पर मेहरबानी की गई – रवीश कुमार

आज के हिन्दू में रफाल डील की फाइल से दो और पन्ने बाहर आ गए हैं। इस बार पूरा पन्ना छपा है और जो बातें हैं वो काफी भयंकर हैं। द हिन्दू की रिपोर्ट को हिन्दी में भी समझा जा सकता…

वरुण गांधी का कांग्रेस में जाना उनके लिए कितना सही कितना गलत?

38 वर्षीय फिरोज वरुण गांधी के कांग्रेस पार्टी में जाने के कयास लगाए जा रहे हैं। राजनीति में कयास का बहुत बड़ा खेल होता है, इन कयासों के दम पर कितने गांठ बनते हैं और कितने ही टूट जाते हैं।…

मेरे आसपास आजकल बहुत कुछ घट रहा है

मेरे आसपास आजकल बहुत कुछ घट रहा है और बहुत तेजी से कुछ दोस्तों ने मुखौटे बदल लिए हैं कुछ दुश्मनों ने चेहरे। एक बस है जो लगता है छूटने वाली है एक और बस है ठसाठस भरी हुई उसका…

अम्बानी के मोटे चुनावी चंदे की चाहत में मोदी ने अमेरिका को नाराज तो नहीं कर दिया है!

अम्बानी के मोटे चुनावी चंदे की चाहत में मोदीजी ने अमेरिका को भी नाराज कर दिया है, कल खबर आई है कि अमेरिका, भारत से यूएस ट्रेड कन्सेशन वापस ले सकता है, जिसके तहत भारत के 5.6 अरब डॉलर (40…