लोकवाणी

मुख़्तलिफ़ आवाज़, निगाह और विचार

राजनीति

बीकानेर नहीं गंगानगर से चुनाव लड़ेंगे अर्जुन राम मेघवाल! ललित मेहरा के आगे दाल गलनी मुश्किल!

देश भर में अचार संहिता लग चुकी है और आम चुनावों का एलान भी हो चुका है। तमाम राजनैतिक पार्टियाँ अपने-अपने उम्मीदवारों के लिए माथापच्ची कर रही हैं। ऐसे में बात जब सुरक्षित सीटों की हो तो मामला और भी…

भाजपा के दबाव के कारण पुण्य प्रसून की सूर्या समाचार से विदाई हुई तय

पिछले दिनों एबीपी न्यूज़ से निकाले जाने के कारण चर्चा में आए पुण्य प्रसून बाजपेयी को एक बड़ा झटका लगा है। उन्होंने सूर्या समाचार न्यूज चैनल जॉइन किया था जो अब सत्ता के दबावों के आगे रेंगने को तैयार है…

मनोहर पर्रिकर : वह दमदार संघी जिसने गोमांस का विरोध करने वालों को सबक सिखाया

गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर चले गए। उनके जाने पर जिस तरह की प्रतिक्रियाएं भाजपा और संघ की विचारधारा से इत्तिफ़ाक़ न रखने वाले लोगों तक ने व्यक्त कीं, वे उसके पात्र भी थे। कम लोग होते हैं, जो अपने…

मोदी ने नाम के आगे चौकीदार इसलिए लगाया है ताकि यह चुनाव चुट्कुला बनकर रह जाए

अब जब प्रधानमंत्री मोदी और पूरी कैबिनेट, मंत्री परिषद और बीजेपी के सभी पदाधिकारी ट्विटर पर अपने नाम के आगे चौकीदार लगा चुके हैं तो इस बात को तय माना जाये कि चुनाव से पहले अब इस चौकीदारी से निकालना…

अगर 2024 में चुनाव नहीं होगा तो हमें फ्री की पूड़ी-सब्ज़ी, दारु कौन देगा और नफरत कौन फैलाएगा

“2024 में नहीं होंगे कोई चुनाव” …अरे डर गए क्या? ना..ना डरे नहीं, चुनाव आयोग ने ऐसा कोई ऐलान नहीं किया है भाई. दरअसल ये धांसू आइडिया हमारे प्यारे, साक्षी महाराज जी के दिमाग़ की उपज है. महाराज जी उत्तर…

भाड़े की भीड़ पर सवार तथाकथित ‘शेरों’, रैली के बाद भीड़ की दिहाड़ी चुकाया करो!

आज मेरे शहर में कांग्रेसियों के भगवान राहुल गांधी आ रहे हैं, और मुझे सुबह-सुबह अपने निर्माणाधीन भवन की ओर कूच करना पड़ रहा है। मुझे कल ही एक शुभेच्छु चेता चुके हैं, “तुम्हारे मज़दूरों को ड्योढ़ा- दुगुना मोल देकर…

जन्मदिन विशेष: जब कांशीराम ने कहा, ‘राजपाठ तो बैलेट से ही लेना है, पर तैयारी बुलेट की भी रखनी है’

छोटी-छोटी जातियों में टूटे, हाशिये पर रखे गये दलित, शोषित और पिछड़े समाज को एकजुट करके बहुजन समाज बनाकर, सत्ता पाने का मार्ग दिखाने वाले महानायक मान्यवर साहेब कांशीराम का जन्म 15 मार्च 1934 को पंजाब के रोपड (अब रूपनगर)…

चीन द्वारा मसूद अज़हर को बचाया जाना मोदी की विदेश नीति की असफलता क्यों नहीं मानी जाए?

एक बार फिर विदेशों में मोदी जी का डंका बजा और ऐसा बजा कि नगाड़ा ही फूट गया ……. जरा याद कीजिए कि पिछली बार साबरमती के तट पर चीनी राष्ट्रपति को कैसे झूला झुलाया जा रहा था. आज जिंग…

जब नेहरू ने कहा कश्मीर के मुद्दे पर पाकिस्तान के हाथों में खेल रहे हैं हिंदुत्ववादी संगठन

देश में कश्मीर मुद्दे को लेकर एक बार फिर भावनात्मक और उग्र बहस चल रही है. हमने देखा कि कश्मीर में आतंकवादी हमले में जवानों की शहादत के बाद देश के कई इलाकों में कश्मीरियों की पिटाई की गई. इन…

न नौकरी दी और न नौकरी परीक्षा की ईमानदार व्यवस्था दे सकी मोदी सरकार (SSC CGL2017)

वो जवानी जवानी नहीं जिसकी कोई कहानी न हो। क्रांति फिल्म के एक गाने की यह पंक्ति भारत के युवाओं की शक्ल पर लिखी नज़र आती है। हमारे युवा न अपनी कहानी लिख पा रहे हैं और न कोई उनकी…