लोकवाणी

मुख़्तलिफ़ आवाज़, निगाह और विचार

रिपोर्ट

बीकानेर नहीं गंगानगर से चुनाव लड़ेंगे अर्जुन राम मेघवाल! ललित मेहरा के आगे दाल गलनी मुश्किल!

देश भर में अचार संहिता लग चुकी है और आम चुनावों का एलान भी हो चुका है। तमाम राजनैतिक पार्टियाँ अपने-अपने उम्मीदवारों के लिए माथापच्ची कर रही हैं। ऐसे में बात जब सुरक्षित सीटों की हो तो मामला और भी…

250 करोड़ में हुआ प्रसून को सूर्या समाचार से निकालने का सौदा!

MediaVigil तो पुण्य प्रसून वाजपेयी को इस चुनावी मौसम में टी.वी.सक्रीन से हटाने की कीमत दी गई 250 करोड़। ये कीमत दी गई ताकि मोदी सरकार के हाहाहूती प्रचार अभियान के सामने देश की ज़मीनी हक़ीक़त आईना बन कर न…

विस्‍थापित आदिवासियों पर वेदांता के सुरक्षा गार्डों ने चलाई गोली, दो की मौत, 50 घायल

अभी हाल ही में हमारे देश में पाकिस्तान के साथ जंग को समर्थन देकर अपनी देशभक्ति साबित करने की लहर सी चल रही थी। लेकिन यह लहर अपने ही देश में किसानों-मजदूरों- आदिवासियों के साथ हमारे कार्पोरेट समर्थक सरकार की…

बर्बादी की कगार पर डीयू: गणित और अन्य विभागों में छात्रों के फेल होने की सच्चाई

यह दिल्ली विश्वविद्यालय के स्नातकोत्तर छात्रों के बीच विफलता का एक अशांत और अविश्वसनीय दौर है। डीयू, राजधानी के एक प्रमुख केंद्रीय विश्वविद्यालय के रूप में अपने पाठ्यक्रमों में सर्वश्रेष्ठ प्रतिभाओं को आकर्षित करता है। आवेदकों को पीजी कोर्स की…

भाजपा के दबाव के कारण पुण्य प्रसून की सूर्या समाचार से विदाई हुई तय

पिछले दिनों एबीपी न्यूज़ से निकाले जाने के कारण चर्चा में आए पुण्य प्रसून बाजपेयी को एक बड़ा झटका लगा है। उन्होंने सूर्या समाचार न्यूज चैनल जॉइन किया था जो अब सत्ता के दबावों के आगे रेंगने को तैयार है…

कासिम: बेघर बूढ़ा रिक्शा चालक जो बचपन में भूख के कारण लोगों की हवस का शिकार हो गया

लेखक: मोहम्मद अलीशान जाफ़री जिनकी छत आसमां है, बिस्तर ज़मीं, हर दरवाजा बंद है और खबर लेने वाला कोई नहीं हमारी सोच से बहुत दूर, हमारे घरों के ठीक बाहर, एक हिंदुस्तान ऐसा भी है जहाँ सिर्फ़ बेघरों का बसेरा…

IDBI, BSNL, MTNL कर्मचारियों की अज्ञानता और कम राजनीतिक समझ के कारण डूब रही हैं!

IDBI का निजीकरण हो गया है। आप प्लीज़ रूकवा दें। इस तरह के मेसेज मेरे इनबॉक्स में भरे हैं। मेसेज भेजना भी एक किस्म का विरोध कार्य हो गया है। इससे निजी या सरकारी कंपनी में काम करने वाले कर्मचारियों…

जन्मदिन विशेष: जब कांशीराम ने कहा, ‘राजपाठ तो बैलेट से ही लेना है, पर तैयारी बुलेट की भी रखनी है’

छोटी-छोटी जातियों में टूटे, हाशिये पर रखे गये दलित, शोषित और पिछड़े समाज को एकजुट करके बहुजन समाज बनाकर, सत्ता पाने का मार्ग दिखाने वाले महानायक मान्यवर साहेब कांशीराम का जन्म 15 मार्च 1934 को पंजाब के रोपड (अब रूपनगर)…

ब्रिज हादसे में 6 की मौत, ब्रिज गिरने या रेल पलटने से हुई मौतों को देखकर हमें गुस्सा क्यों नहीं आता!

गुरुवार रात को मुंबई में छत्रपति शिवाजी टर्मिनस (सीएसटी) रेलवे स्टेशन पर फुटओवर ब्रिज गिर जाने से 6 लोगों की मौत हो गई और 30 के करीब लोग घायल हुए हैं. पिछले 2 सालों से लगातार रेल व फुटओवर ब्रिज…

चीन द्वारा मसूद अज़हर को बचाया जाना मोदी की विदेश नीति की असफलता क्यों नहीं मानी जाए?

एक बार फिर विदेशों में मोदी जी का डंका बजा और ऐसा बजा कि नगाड़ा ही फूट गया ……. जरा याद कीजिए कि पिछली बार साबरमती के तट पर चीनी राष्ट्रपति को कैसे झूला झुलाया जा रहा था. आज जिंग…