लोकवाणी

मुख़्तलिफ़ आवाज़, निगाह और विचार

हास्य-व्यंग्य

व्यंग्य: हनुमान विश्व के प्रथम कम्युनिस्ट और सर्वहारा के नेता थे, उन्हीं का लाल रंग आज के कम्युनिस्टों ने लिया है

हरिशंकर परसाई पोथी में लिखा है – जिस दिन राम, रावण को परास्त करके अयोध्या आए, सारा नगर दीपों से जगमगा उठा। यह दीपावली पर्व अनन्तकाल तक मनाया जाएगा। पर इसी पर्व पर व्यापारी बही-खाता बदलते हैं और खाता-बही लाल…

आध्यात्मिक पागलों का मिशन

हरिशंकर परसाई भारत के सामने अब एक बड़ा सवाल है – अमेरिका को अब क्या भेजे? कामशास्त्र वे पढ़ चुके, योगी भी देख चुके। संत देख चुके। साधु देख चुके। गाँजा और चरस वहाँ के लड़के पी चुके। भारतीय कोबरा…

पत्र-का₹ को पत्रकारिता के मूल्य और एथिक्स से मुक्त हो नियुक्ति “पत्र” और “का₹” पर चिंतन करना चाहिए!

संजय श्रमण हिंदी पत्रकारिता दिवस पर आज श्री रामनाथ गोयंका को याद कीजिये, विराट पुरुषार्थ से उन्होंने “खिलाड़ी अक्षय” पुरस्कार प्राप्त किया था! महान पत्रका₹ खिलाड़ी जी को कौन नहीं जानता? आज ही के दिन पंडित शुक्ल ने “उदन्त मार्तंड”…

तेजबहादुर से डरकर मोदी ने अमित शाह से कहा, ‘रोको इस तेजबहादुर को, पूरा खेल बिगाड़ देगा!’

तेजबहादुर यादव के नामाकंन को रद्द करने के लिए जिन छुटमुट कारणों को गिनाया जा रहा है वह दिखाता है कि देश का लोकतंत्र अभी भी शैशव अवस्था में है, तेजबहादुर पर तो हमारी नजर गई है लेकिन बनारस में…

व्यंग्य: चौतरफा टीवी-प्रचार से भी जब संतोष नहीं होता तो इंटरव्यू लेने अक्षय कुमार आ जाते हैं

उर्मिलेश कुछ दिन पहले प्रधानमंत्री मोदी जी का एक अखबारी इंटरव्यू देखा। जी, देखा, पूरा पढ़ नहीं सका। पढ़ते-पढ़ते थक गया। लंबे चौड़े अंग्रेजी अखबार के ढाई पन्नों तक फैला था। पहले पेज का आधा हिस्सा और फिर दो पेज…

व्यंग्य: मोदी जी का चुनाव जीतना क्यों ज़रूरी है?

दोस्तों मोदी जी का दोबारा प्रधानमंत्री बनना बेहद ज़रूरी है. अगर ऐसा नहीं हुआ तो बीते पाँच सालों में उन्होंने जो मेहनत की है उस पर पूरी तरह पानी फिर जाएगा: जो पेट्रोल आज 36 रुपए लीटर मिल रहा है,…

वैज्ञानिक कथाकार नरेंद्र मोदी का राष्ट्र को संबोधन और चुनाव आयोग का समापन

अगस्त 2008 की एक सुबह हम चेन्नई से श्रीहरिकोटा के सतीश धवन स्पेस सेंटर पहुँचे थे। दुनिया भर से आए दर्जनो अंतरिक्ष-पत्रकारों के बीच मैं गाँव गली कवर करने वाला भी पहुँच गया था। भारत अपना पहला मून मिशन चंद्रयान…

अगर जीवन में आपने जनरल डब्बे की यात्रा का लुत्फ़ ना उठाया तो क्या ही दुनिया में आए

ट्रेन की यात्रा बहुत सुहावनी होती है. फिल्मों में तो इसे और सुहावना बना दिया जाता है. “छोटी सी कहानी से, बारिशों के पानी से, सारी वादी भर गई, लाss लाss लाss लाsss”, या फिर राजेश खन्ना-शर्मिला टैगोर का गाना,…

हरिशंकर परसाई: क्रांतिकारी की कथा (व्यंग्य)

कुछ दिनों से वामपंथी चर्चा में बने हुए हैं. कन्हैया कुमार अब सीपीआई के टिकट से बेगूसराय से चुनाव लड़ रहे हैं. हम सबकी शुभकामनाएं उनके साथ हैं. उन्हें इस बार संसद में जरूर आना चाहिए. आज शहला रशीद के…

गौतम गंभीर: वह आदमी जो क्रिकेटर्स की टीम से चौकीदारों की टीम में शामिल हुआ

गौतम गंभीर क्रिकेट का मैदान छोड़ सियासी पारी खेलने उतर चुके हैं. गौतम गंभीर ने शुक्रवार को बीजेपी जॉइन की है. बताया जा रहा है कि बीजेपी नई दिल्ली सीट से गंभीर को अपना उम्मीदवार बना सकती है. इस खबर…