लोकवाणी

मुख़्तलिफ़ आवाज़, निगाह और विचार

Latest post

नफ़रत के पुतले

आप दलितों के प्रति इतनी नफ़रत कहाँ संभाल कर रखते हैं जो आपके लेखक वगैराह हो जाने के बावजूद बरक़रार रहती है और आपकी सारी स्मार्टनेस उसे छुपा नहीं पाती? आप उसे छुपाना भी कहां चाहते हैं? फिलहाल मैं यह…

क्या इस लिए हमारे जीनियस भारतीय पुलिस सेवा में जाते हैं?

भारतीय पुलिस सेवा का अपना इतिहास है। यह एक गर्वीली सेवा है। मैंने अपने पत्रकारिता के 35 साल के जीवन में अनेक मौक़ों पर आईपीएस अफ़सरों को सेना से भी अधिक सुयोग्य देखा है। लेकिन ताज़ा घटनाक्रम बताता है कि…

डियर पांच बेटियों के पापा…

रितिका यहां पांच बेटियां लिखना इसलिए ज़रूरी लगा क्योंकि पांच बेटियों का होना ही आपको खास बनाता है। रश्मि, रितिका, गोदावरी, शिप्रा और कावेरी ये पांचों नाम आपने खुद रखे थे न| यहां मुझे चर्चा उन बातों की करनी ही…

बीमा का मतलब अस्पताल और इलाज नहीं होता, कुछ और होता है!

हर साल बजट आता है। हर साल शिक्षा और स्वास्थ्य में कमी होती है। लोकप्रिय मुद्दों के थमते ही शिक्षा और स्वास्थ्य पर लेख आता है। इस उम्मीद में कि सार्वजनिक चेतना में स्वास्थ्य से जुड़े सवाल बेहतर तरीके से…

बंगाल में अमित शाह के अगले शिकार हैं वामपंथी !

2016 बंगाल विधानसभा चुनाव में कांग्रेस और लेफ्ट साथ थे. इस चुनाव में TMC को पूर्ण बहुमत मिला था. TMC को लगभग 45 प्रतिशत वोट मिले थे. लेफ्ट को 27 और कांग्रेस को 12 प्रतिशत वोट मिले थे. वहीं बीजेपी…

‘साहित्य की एक नई दुनिया संभव है’, वक्तव्य से हुआ दलित साहित्य महोत्सव का आरम्भ

दलित शब्द समाज के हर दलित-आदिवासी,महिला, घुमंतू आदिवासी, ट्रांसजेंडर समुदाय, किसान, मजदूर, व हर वंचित समुदाय के संघर्ष और प्रतिरोध का प्रतीक देश भर से आये प्रसिद्द साहित्यकारों ने किया उदघाटन, लक्ष्मण गायकवाड़, बल्ली सिंह चीमा, मोहन दास नैमिशराय, निर्मला…

आगरा में रेंगती नागरिकता, पुणे मे तेलतुम्बडे को लेकर चुप नागरिकता

अब आपको याद भी नहीं होगा कि प्रधानमंत्री की हत्या की कथित साज़िश में गिरफ्तार सुधा भारद्वाज जैसों के साथ क्या हो रहा होगा? मीडिया और राजनीति आपके सामने आतंकवाद के ख़तरे परोसते रहे। पहले बताया कि आतंकवाद के लिए…

आनंद तेलतुम्‍बडे की गिरफ्तारी को मजबूत जातिवादी व्यवस्था वाले देश में एक मामूली सूचना समझिए!

वैज्ञानिक और बुद्धिजीवी प्रो. आनंद तेलतुम्‍बडे को शनिवार तड़के साढ़े तीन बजे मुंबई एयरपोर्ट से गिरफ्तार कर लिया गया जब वे कोच्चि से मुंबई लौट रहे थे। मीडियाविजिल पर छपी खबर के अनुसार पुणे पुलिस से इंस्‍पेक्‍टर इंदुलकर ने उनकी गिरफ्तारी की…

गांधी का पुतला (दस कहानियां)

लेखक: असगर वजाहत अ.व.1.गांधी के पुतले को यह समझ कर गोली मारी गई थी कि पुतले को मारी जा रही है। लेकिन गोली गांधी को लगी।पुतले के पीछे से गांधी निकल आए। गोली मारने वालों ने कहा यह तो हमारे…

जींद उपचुनाव : नंग-धड़ंग राजकुमारों का युद्ध और मानसिक गुलाम कार्यकर्ताओं की पिटाई!

हरियाणा की जींद विधानसभा सीट पर हुआ उपचुनाव मेवात में मुसलमानों के एनकाउंटर या सूबे के खेतों में मर रहे किसानों जितना कोई मुश्किल सवाल नहीं था, कि इस पर हरियाणा का विपक्ष कभी चर्चा ही नहीं करता। इसका तो…