लोकवाणी

मुख़्तलिफ़ आवाज़, निगाह और विचार

रिपोर्ट

बलात्कारी नेताओं को संरक्षण देने वाली बीजेपी और उनके समर्थकों को शर्म क्यों नहीं आती?

सर्वदमन सांगवान

बीजेपी का एक विधायक कुलदीप सैंगर बलात्कार के मामले में फंसा तो पूरी बीजेपी उसके बचाव में कुतर्क करने लगी. पार्टी का एक ‘स्वामी’, जोकि मोदी सरकार में केंद्रीय मंत्री रह चुका है, लॉ की एक छात्रा से नंगधडंग हो कर मालिश कराते पकड़ा गया तो पूरी बीजेपी ऐसे बिलबिलाने लगी जैसे चिन्मयानंद नहीं बल्कि भाजपाइयों का सगा बाप रंगे हाथों बलात्कार करते पकड़ा गया हो। बीजेपी समर्थक ऐसे ऐसे कुतर्क व दलीलें घड़ रहे हैं कि इनके मानसिक दिवालिएपन पर क्रोध भी आता है और इनको सरेआम जूते मारने को भी दिल करता है.

शर्मनाक तथ्य यह है कि पूरी बीजेपी और योगी आदित्यनाथ की यूपी सरकार पीड़ित युवती को गलत साबित करने के लिए हाथ धो कर उसके पीछे पड़ गई और उल्टे युवती को ही बलैकमेलर घोषित कर दिया. लेकिन ब्लैकमेल के मामले में तब तक कुछ साबित नहीं होता जब तक कि ब्लैक मेल की रकम का भुगतान न हुआ हो. इस मामले में अब तक लड़की को चवन्नी का भी भुगतान नहीं हुआ है. खुद बलात्कारी की तरफ से लड़की को पैसे की ऑफर दी गई न कि लड़की ने पैसे की मांग की. इन सब तथ्यों को गोलमोल किया गया। अपना काम निकालने के लिए किसी को धन की ऑफर देना भी उतना ही बड़ा अपराध है, जितना कि किसी से धन उगाहना। लेकिन बीजेपी के इशारे पर कठपुतली बन कर नाचने वाली यूपी पुलिस ने इस बारे में एक शब्द तक बोलने की जरूरत नहीं समझी।

खैर बीजेपी ने तो यहां लड़की को ब्लैकमेलर ही बताया है वरना इसके घोंचू आईटी सैल के सिपाही तो सोशल मीडिया पर लड़की को रंडी तक बोल रहे हैं। इस ‘पार्टी विद डिफरेंस’ के नेता तो इतना तक गिरने में शर्म नहीं करते कि कठुआ में महज नौ साल की बालिका के बलात्कारी हत्यारों के समर्थन में सड़कों पर जुलूस तक निकाल बैठे थे।

अब बीजेपी के यूपी के एक मंत्री बाबूराम निषाद पर उनकी पत्नी ने ही आरोप लगाया है कि उसका पति उसे रोजाना बुरी तरह मारता पीटता है और जान से मारने तक की धमकी देता है। पत्नी का कहना है कि पति के खिलाफ वह कई बार थाने में शिकायत दे चुकी है, लेकिन किसी पुलिस अफसर की उसके विरूद्ध कार्रवाई करने की हिम्मत नहीं होती. एक मंत्री की पत्नी को न्याय न दे सकने वाली योगी आदित्यनाथ की सरकार आम औरतों को भला क्या न्याय दिला पाएगी? एकाध दिन में बीजेपी के मुस्टंडों की फौज इस महिला को ही बदचलन साबित कर देगी और मंत्री इस महिला को तलाक देकर अपनी पसंद की लड़की से धूमधाम शादी रचा लेगा। मुस्लिम महिलाओं को तलाक की त्रासदी से मुक्ति दिलाने वाली इस हिंदूवादी सरकार को इस हिंदू महिला के हित में कुछ तो करना ही चाहिये? हिंदू लड़कियों से बलात्कार करने वाला स्वामी चिन्मयानंद और बीजेपी विधायक कैलाश सैंगर को आप कैसा हिंदू मानते हैं? क्या ऐसे बलात्कारियों को संरक्षण देने के लिए ही हिंदू राष्ट्र का नारा जोरशोर से बुलंद किया जा रहा है?

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published. Required fields are marked *