लोकवाणी

मुख़्तलिफ़ आवाज़, निगाह और विचार

रिपोर्ट

सेटेलाइट तस्वीरों से खुलासा: बालाकोट में बम गिराने वाली जगह पर अभी भी मौजूद है मदरसा

विश्व की सबसे बड़ी न्यूज एजेंसी रॉयटर्स ने आज सुबह-सुबह हमारी वायुसेना की बहुचर्चित बालाकोट एयर स्ट्राइक पर खोज-पड़ताल आधारित अपनी ताज़ा रिपोर्ट प्रकाशित की है।

इसमें बालाकोट से अपनी पहले की जमीनी रिपोर्ट के अलावा सैटेलाइट इमेज़ के विश्लेषण के लिए विख्यात एक बड़ी एजेंसी के अध्ययन को भी उद्धृत किया है।

रिपोर्ट बताती है कि बालाकोट में वैसा कुछ नहीं हुआ, जैसा भारत के सत्ताधारी नेता चुनावी रैलियों में दावे करते फिर रहे हैं। रॉयटर्स कह रहा है कि बालाकोट की हाई रिज़ोल्यूशन इमेज में साफ हुआ है कि जिस मदरसे को गिराने का दावा हुआ वो जस का तस खड़ा है।

अभी तक हाई-रेजेल्यूशन सेटेलाइट की कोई भी तस्वीर सार्वजनिक तौर पर उपलब्ध नहीं थी। लेकिन प्लैनेट लैब्स इंक ने जो तस्वीरें मुहैया कराई हैं उनमें 72 सेंटीमीटर यानी 28 इंच तक के आकार तक की चीजों को देखा जा सकता है।

दिलचस्प तो ये कि हमारे टीवी चैनल घटनास्थल पर गये बगैर सैकड़ों आतंकियों के मारे जाने के दावे कर रहे हैं। भारतीय वायुसेना ने संख्या आदि के बारे में कभी ऐसा कोई दावा नहीं किया।

आशा है, हमारी सरकार, खासकर सत्ताधारी पार्टी अपने मतदाताओं को निराश नहीं करेगी और भरपूर पराक्रम दिखाते हुए रायटर्स की खबर से अलग ठोस तथ्य देकर उक्त खबर को गिरा देगी।

अगर वह ऐसा नहीं करती तो सत्ताधारी नेताओं को चुनाव रैलियों और मीडिया बयानों में बेवजह पराक्रम दिखाना अब फौरन बंद कर देना चाहिए। चलिए, सच जानने का इंतजार करें।

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published. Required fields are marked *