लोकवाणी

मुख़्तलिफ़ आवाज़, निगाह और विचार

ankit saxena

एक पिता जिसने बेटे को मौत के बाद फिर से ज़िंदा किया, उसके कातिलों को शर्मिंदा किया!

दिल्ली के रघुबीर नगर में सीमेंट गोदाम के पास एक तिराहा है, जहां मिस्त्री अपनी छोटी-छोटी दुकानों में चहलकदमी कर रहे हैं। उसी तिराहे के कोने में एक छोटा-सा तुलसी का पौधा है जिसकी ईंट-पत्थर से बाड़बंदी कर के एक…